"SANKALP" CP-6, Indra Vihar Kota (Rajasthan), India 324005

जेईई-मेन ‘आंसर की‘ जारी इस वर्ष कोई बोनस अंक नहीं

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन जिसमें इस वर्ष 11 लाख 50 हजार से अधिक विद्यार्थियां ने भाग लिया है। सीबीएसई द्वारा विद्यार्थियों के हितों को देखते हुए पारदर्शिता दिखाते हुए मंगलवार को ऑफलाइन परीक्षा के चारों कोड में एवं आनलाइन परीक्षा की भी अधिकृत आंसर की जारी कर दी। इस वर्ष त्रुटिरहित प्रश्नपत्र होने के कारण विद्यार्थियों को कोई बोनस अंक नहीं मिला है। विद्यार्थी अपनी ओएमआर शीट की स्केन इमेजज के साथ अपने द्वारा भरे गए उत्तरों के रिकॉर्डेड रेस्पोंस जेईई-मेन की वेबसाइट पर लॉग-इन कर देख सकते हैं। इसके लिए विद्यार्थियों को जेईई-मेन वेबसाइट पर अपना आवेदन नम्बर एवं बनाए गए पासवर्ड को डालकर लॉगइन करना होगा। लॉगइन कर उपलब्ध विकल्पों पर जाकर विद्यार्थी जेईई-मेन आंसर की एवं अपने रिकॉर्डेड रेस्पोंस को देख सकता है। विद्यार्थियों को यह अवसर 27 अप्रेल तक के लिए दिया गया है। विद्यार्थी अपने द्वारा दिए गए उत्तरों की जांच कर उसमें संशय होने पर सीबीएसई को आपत्ति दर्ज करवा सकते हैं। आपत्ति दर्ज करवाने का शुल्क प्रत्येक रिकॉर्डेड रेस्पोंस के लिए एक हजार रूपए रखा गया है। शुल्क का भुगतान विद्यार्थी डेबिट, क्रेडिट कार्ड या ई-चालान के माध्यम से कर सकते हैं। जेईई-मेन का स्कोर एवं ऑलइंडिया रैंक 30 अप्रेल को घोषित की जाएंगी।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के कॅरियर काउंसलिंग एक्सपर्ट ने बताया कि जेईई-मेन की आंसर की जारी होने के साथ विद्यार्थी रिकॉर्डेड रेस्पोंस के द्वारा अपने अंकों का सटीक आंकलन करते दिखाई दे रहे हैं। विद्यार्थी जिनके जेईई-मेन मार्क्स 250 से अधिक हैं, ऐसे विद्यार्थियों को शुरू के टॉप 5 एनआईटी सूरतकल, वारंगल, तिरछी, इलाहाबाद व जयपुर में कोर ब्रांच जैसे कम्प्यूटर, इलेक्ट्रीकल, इलेक्ट्रोनिक्स मिलने की पूर्ण संभावना रहेगी। विद्यार्थी जिनके अंक 200 से 250 के मध्य हैं, उन्हें शुरू के 5 एनआईटी में अन्य ब्रांचें एवं एनआईटी भोपाल, सूरत, नागपुर, जालंधर, कुरूक्षेत्र, कालीकट, राउरकेला, ट्रिपलआईटी इलाहाबाद, बिट्स मिसरा आदि में कोर ब्रांच में प्रवेश मिल सकता है। विद्यार्थी जिनके अंक 150 से 200 के बीच में आ रहे हैं, उन्हें एनआईटी पुडुचेरी, पटना, सिल्चर, श्रीनगर, रायपुर, आंध्रप्रदेश के साथ-साथ ट्रिपलआईटी ग्वालियर, जबलपुर में कोर ब्रांच मिलने की संभावना रहेगी। विद्यार्थी जिनके अंक 100 से 150 हैं, उन्हें नोर्थईस्ट एनआईटी व नए ट्रिपलआईटी जैसे नागपुर, पुणे, भोपाल, सूरत, लखनऊ, रांची आदि में कोर ब्रांच के साथ-साथ कुछ जीएफटीआई में भी कोर ब्रांच मिलने की संभावनाएं बन सकती है। विद्यार्थी जिनके मार्क्स 100 से कम आ रहे हैं उन्हें भी निराश होने की आवश्यकता नहीं है, ऐसे विद्यार्थियों को काउंसलिंग के आगे के राउण्ड तक प्रतीक्षा कर सही तरीके से काउंसलिंग में भाग लेने पर एनआईटी, ट्रिपलआईटी की बची हुई सीटों पर प्रवेश मिल सकता है।

Related Posts

Leave a comment

CAPTCHA Image

*